Posts

विश्व व्यवस्था का अर्थ
विश्व व्यवस्था का अर्थ क्रम’ या व्यवस्था से सभी वस्तुओं के उचित स्थान पर होने का संकेत मिलता है। यह नियमों क…

राजनीतिक दल का अर्थ और परिभाषा एवं विशेषताएं
प्रत्येक लाकेतांत्रिक समाज तथा सत्तावादी व्यवस्था में राजनीतिक दल होते है। एक राजनीतिक में राजनीतिक दल होते …

भारत में चुनाव प्रक्रिया
निर्वाचन प्रक्रिया से तात्पर्य संविधान में वर्णित अवधि के पश्चात पदो एवं संस्थाओ के लिए होने वाले निर्वाचनों…

मुख्यमंत्री के कार्य
मुख्यमंत्री प्रत्येक राज्य में राज्यपाल के दायित्व निवर्हन मे सहयोग और सहायता के लिए, एक मंत्रिपरिषद् होती ह…

संसद में कानून बनाने की प्रक्रिया
ससंद मुख्यतया कानून बनाने वाली संस्था है। को भी प्रस्तावित कानून, संसद में एक विधेयक के रूप में प्रतिस्थापित…

प्रधानमंत्री के कार्य एवं शक्तियां
प्रधानमंत्री की नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा की जाती है। व्यवहार में राष्ट्रपति लोक सभा के बहुमत दल के नेता को…

मौलिक अधिकार के प्रकार एवं विशेषताएं
भारत संविधान में सात मौलिक अधिकार वर्णित थे। यद्यपि वर्ष 1976 में 44वें संविधान संशोधन द्वारा मौलिक अधिकारों…

मानवतावाद क्या है?
संसार की समस्त प्रगति का केन्द्र बिंदु मनुष्य है और मनुष्य के सर्वागिणं विकास में उसकी भौतिक प्रगति के साथ स…

राजनीति विज्ञान का अर्थ, परिभाषा एवं क्षेत्र
राजनीति विज्ञान का अर्थ, परिभाषा  राजनीति विज्ञान शब्द समूह अंग्रेजी भाषा के Political Science शब्द समूह का …

कोयला की उत्पत्ति, प्रकार एवं सरंक्षण
कोयला एक नवीनीकृत अयोग्य जीवाश्म ईधन है। प्राचीनकाल में पृथ्वी के विभिन्न भागों में सघन दलदली वन थे जो भूगर्…

संतुलित आहार क्या है?
हम जो भोजन ग्रहण करते हैं। उसे दो श्रेणियों में बाँट सकते हैं।
पर्याप्त आहार संतुलित आहार 1. पर्याप्त आहार-

गृह विज्ञान का अर्थ एवं महत्व
गृह विज्ञान का अर्थ गृह विज्ञान शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है गृह और विज्ञान। गृह से तात्पर्य वह स्थान जहाँ…