अनुपात का अर्थ

अनुक्रम
अनुपात दो मात्राओं (राशिया) का संबधं है ये दो मात्राए पद कहलाते है। पहले पद को दूसरे पद से भाग करके अनुपात निकाला जाता है। हमारे पेनों को उदाहरण में दो पद है पेन अ जिसकी कीमत 6रु. है पहला पद है आरै पेन ब जिसकी कीमत 2रु. है दूसरा पद है। अ पेन पहला पद इसलिए है क्याेिं क इसकी कीमत को ब पेन की कीमत स े तलु ना करने का हमारा विचार है। अ पेन दसूरा पद इस लिए है क्याेिंक इस पेन की कीमत के सबंध में किस्म के पेन की तलु ना करने का हमारा विचार है। अत: जिसकी तुलना की जाती है वह पहला पद है आरै जिसके साथ तुलना की जाती है वह दूसरा पद है। दोनों पदों के निर्धारण के बाद हम अनुपात निकालने के लिए पहले पद को दूसरे पद से भाग कर सकते है। इस प्रकार-

  पेन की कीमत  6रु.
अनुपात ---------- = ---- = 3रु.
    पेन की  कीमत  2रु.

अनुपात का मूल्य 3 है। यह दर्शाता है कि अ पेन की कीमत ब पेन की कीमत से 3 गुना अधिक है।

अनुपात की विभिन्न रूपों में अभिव्यक्ति

अनुपात को तीन रूपों में प्रकट किया जा सकता है-

1. शब्दों में - 6रु. और 2रु. का अनुपात
2. चिन्हों में - 6रु : 2रु
3. भिन्न में -
6 रु.
2 रु.

इन तीनों ही रूपों में अनुपात का मूल्य समान रहता है। हम पेन अ की कीमत और पेन ब की कीमत के अनुपात का े तीनों रूपों में एक साथ व्यक्त कर सकते है।

Comments

Post a Comment