Showing posts from June, 2018

आंग्ल-मराठा युद्ध के कारण एवं परिणाम

प्रथम आंग्ल-मराठा युद्ध (1772 ई. से 1784 ई.) 1761 ई. में पनीपत के तृतीय युद्ध के कुछ समय बाद ही पेशवा बालाजी बाजीराव की मृत्यु हो गयी। उसके पश्चात उसका पुत्र माधवराव पेशवा बना। उसने थोड़े समय में ही मराठा शक्ति ओर साम्राज्य को पुन: बढ़ा लिया और महा…

पिट्स इंडिया एक्ट क्या है?

पिट्स इंडिया एक्ट कब पारित हुआ? अगस्त, 1784 ई. में पिट का  इंडिया एक्ट पास हुआ। इसने भूतपूर्व अधिनियमों के दोषों को दूर करने का प्रयास किया। इसकी भाषा संयमित थी। इसमें कंपनी के प्रदेशों को भारत में ब्रिटिश अधिकृत क्षेत्र कहा गया था। पिट्स इंडिया एक…

रेगुलेटिंग एक्ट का अर्थ

ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा दीवानी की प्राप्ति और कुछ क्षेत्रों पर अधिकार का इंग्लैण्ड पर गहरा असर पड़ा। वहाँ की जनता ने कंपनी के मामलों में संसदीय हस्तक्षेप के लिए आंदोलन शुरू किया। कंपनी द्वारा भारतीय राजाओं से युद्ध, कुछ विशेष व्यक्तियों द्वारा स्वार…

बक्सर का युद्ध के कारण और परिणाम

बक्सर का युद्ध के कारण और परिणाम निम्नलिखित है। बक्सर युद्ध के कारण बक्सर का युद्ध के कारण निम्नलिखित है। बंगाल में प्रभुत्व की समस्या  संरक्षण की नीति का त्याग  एलिस की नीति  अंग्रेजों का व्यापारिक विवाद  मीरकासिम के विरूद्ध शड़यंत्र एवं पटना पर आक…

प्लासी का युद्ध के कारण और परिणाम

प्लासी का युद्ध भारतीय इतिहास में अंग्रेजों के प्रभुत्व के प्रसार की दृष्टि से महत्वपूर्ण है। प्लासी का युद्ध के कारण प्लासी युद्ध का क्या कारण था? प्लासी का युद्ध के कारण हैं - सिराजुद्दौला की अलोकप्रियता  अंग्रेजों की साम्राज्यवादी महत्वाकांक्षा फ…

कर्नाटक का युद्ध का महत्व और परिणाम

कर्नाटक अपनी धन सम्पदा के लिये प्रसिद्ध था। दिल्ली के सैय्द बन्धुओं के प्रभाव से मुगल सम्राट ने मराठों को कर्नाटक से चौथ वसूल करने का अधिकार दे दिया था। जब मराठों ने कर्नाटक के नवाब दोस्त अली से चौथ की धनराषि मांगी और उसने यह धनराषि नहीं दी तो मराठों…

परामर्श का अर्थ, परिभाषा, विशेषताएं एवं सिद्धांत

परामर्श की आवश्यकता मनुष्य को सदैव से पड़ती रही है किन्तु परिवार एवं समाज के स्वरूप में परिवर्तन के साथ-साथ परामर्श के रुप में भी परिवर्तन हुआ है। पहले संयुक्त परिवार में व्यक्ति अपने परिवार के बुजुर्गों से परामर्श प्राप्त कर संतुष्ट हो जाता था। वर्तम…

धुंध (Smog) क्या है, इससे खुद को कैसे बचाएं?

धुंध किसे कहते हैं? Smog शब्द दो शब्दों के मेल से बना है Smoke = Fog = Smog धुंध असल में पानी के कणों और धुएं में उपस्थित कार्बन के कणों के मिश्रित होने से बनता है और यह सर्दी के मौसम में अधिक होता है क्योंकि उस समय कोहरे में पानी के कण हवा में होते …

ओजोन परत क्या है ? ओजोन परत का क्षरण के कारण

हमारे सौरमण्डल में पृथ्वी ही संभवत ऐसा अनोखा ग्रह है, जिसका वायुमण्डल रासायनिक दृष्टि से सक्रिय तथा ऑक्सीजन से भरा हुआ है, अन्य ग्रह कार्बनडाई ऑक्साइड, मीथेन तथा हाइड्रोजन जैसी निष्क्रिय गैसों से घिरे हुए हैं। हमारे वायुमण्डल की ऊपरी परत में 15 से 35…

अम्लीय वर्षा किसे कहते हैं?

अम्लीय वर्षा किसे कहते हैं? वायुमंडल में उपस्थित सल्फर और नाइट्रोजन के ऑक्साइड वर्षा में घुल जाते हैं और इस अम्लीय बना देते हैं और इस प्रकार जो वर्षा धरती की सतह पर होती है यह अम्लीय वर्षा कहलाती है। अम्लीय वर्षा शब्द युग्म का सर्वप्रथम प्रयोग वैज्ञान…

मृदा प्रदूषण किसे कहते हैं इसके कौन कौन से स्रोत हैं ?

मृदा प्रदूषण में मानव जनित रसायनों की उपस्थिति और मिट्टी में अन्य परिवर्तन शामिल हैं। उर्वरकों और कीटनाशकों के उपयोग की मानवीय गतिविधियाँ मिट्टी की गुणवत्ता को प्रभावित करने के प्रमुख कारक हैं। खनन, कृषि, वनों की कटाई आदि महत्वपूर्ण गतिविधियां हैं …

मुंह के छालों का कारण क्या है, मुंह के छालों का घरेलू उपाय

मुंह के छालो को मुुखकोथ भी कहा जाता है। मुंह के छालो मुंह की म्यूकस झिल्ली में प्रदाह उत्पन्न हो जाता है और व्रण या छाले उत्पन्न हो जाते है। मुंह के छाले एक सामान्य रोग है,जो किसी ना किसी को कभी ना कभी हो ही जाता है। आँकड़ो के अनुसार हर 5 में से 1 को…

Load More
That is All