लॉकडाउन क्या है, और क्यों किया जाता है?

By Bandey No comments
अनुक्रम

लॉकडाउन एक आपात प्रोटोकॉल (आपदा व्यवस्था) है जो किसी आपदा या महामारी की स्थिति (Epidemic status) के वक्त सरकारी तौर पर लागू की जाती है । लॉक डाउन (lockdown) में उस क्षेत्र के लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होती है । उन्हे सिर्फ दवा और अनाज जैसी जरूरी चीजों के लिए ही बाहर आने की इजाजत मिलती है । इस दौरान वे बैंक से पैसे निकालने भी जा सकते हैं । यह एक एमरजेंसी व्यवस्था है । किसी तरह के खतरे से इंसान और किसी इलाके को बचाने के लिए लॉकडाउन किया जाता है ।

लॉकडाउन

सीधे शब्दों में लॉकडाउन’ का अर्थ है तालाबंदी. जिस तरह किसी संस्थान या फैक्ट्री को बंद किया जाता है और वहां तालाबंदी हो जाती है उसी तरह लॉक डाउन का अर्थ है कि आप अनावश्यक कार्य के लिए सड़कों पर ना निकलें। किसी तरह की परेशानी हो तो लोग संबंधित पुलिस थाने, जिला कलेक्टर,पुलिस अधीक्षक अथवा अन्य उच्च अधिकारी को फोन कर सकते हैं ।

लॉकडाउन  की ऐतिहासिक घटनाएँ

  1. 11 सितंबर 2001 को अमेरिका में आतंकी हमले के बाद वहां तीन दिन का लॉकडाउन किया गया था। दिसंबर 2005 में न्यू साउथ वेल्स पुलिस फोर्स ने दंगा रोकने के लिए  किया था।
  2. 19 अप्रैल, 2013 को बोस्टन शहर को आतंकियों की खोज के लिए लॉकडाउन कर दिया गया था।
  3. नवंबर 2015 में पैरिस हमले के बाद संदिग्धों को पकड़ने के लिए साल 2015 में ब्रुसेल्स में पूरे शहर को लॉकडाउन किया गया था। 30 जनवरी, 2008 को ब्रिटिश कोलंबिया विश्वविद्यालय (UBC) परिसर मे रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस (RCMP) ने छह घंटे के लिए परिसर में लॉकडाउन जारी किया गया था ।
  4. ब्रिटिश कोलंबिया विश्वविद्यालय (UBC) से जुड़े सभी लोगों को ईमेल के माध्यम से अलर्ट भेजा गया था।
  5. 10 अप्रैल 2008 को कनाडाई माध्यमिक विद्यालयों को दो संदिग्ध बन्दूक धारी व्यक्तियों के धमकियों के कारण बंद कर दिया गया था। जॉर्ज एस हेनरी अकादमी मे लगभग दोपहर 2:00 बजे टोरंटो, ओंटारियो में नीचे ताला लगा हुआ था आपातकालीन कार्य बल (टीपीएस) से संपर्क किया गया और दो घंटे से अधिक समय तक लॉकडाउन चला।
  6. 19 अप्रैल 2013 को, बोस्टन के पूरे शहर को आतंकवादी Dzhokhar और Tamerlan Tsarnaev के लिए तलाशी के दौरान सभी सार्वजनिक परिवहन बंद कर दिया गया था 2015 में ब्रसेल्स शहर को सुरक्षा सेवाओं लिए लॉकडाउन, दिया गया था

किन देशों में है?

चीन, डेनमार्क, अल सलवाडोर, फ्रांस, आयरलैंड, इटली, न्यूजीलैंड, पोलैंड और स्पेन में लॉकडाउन जैसी स्थिति है। चूंकि चीन में ही सबसे पहले कोरोनावायरस संक्रमण का मामला सामने आया था, इसलिए सबसे पहले वहां लॉकडाउन किया गया।

इटली में मामला गंभीर होने के बाद वहां के प्रधानमंत्री ने पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया। उसके बाद स्पेन और फ्रांस ने भी कोरोना संक्रमण रोकने के लिए यही कदम उठाया।

Leave a Reply