कंप्यूटर के मुख्य भागों के नाम

कंप्यूटर शब्द का उद्भव (Origin of the word computer)

कंप्यूटर शब्द का उद्भव कंप्यूटर शब्द से हुआ है। कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है।  कम्प्यूटर कई क्षेत्रों जैसे- पत्र लेखन, लेटर हेड और चार्ट बनाने, अपनी चेकबुक का हिसाब रखने, चित्र बनाने स्टॉक मूल्यों का पता लगाने, खेलने, शिक्षण सामग्री तैयार करने में विभिन्न शैक्षिक एवं वित्तीय तालिकाएं बनाने, खेलने, होमवर्क आदि में सहायता करता है। इस पर संगीत सुन सकते है और फिल्म भी देख सकते है।

कंप्यूटर

कंप्यूटर के मुख्य भाग (Main parts of computer)

कंप्यूटर में मुख्य भाग होते है:-
  1. हार्डवेयर
  2. सॉफ्टवेयर

1. हार्डवेयर (Hardware) - 

कंप्यूटर के वे भाग जिन्हें हम छू सकते है और महसूस कर सकते है हार्डवेयर कहलाते है। जैसे-
  1. की-बोर्ड:- यह एक टाइपराइटर के निचले आधे भाग जैसा उपकरण है। इसमें कंप्यूटर में टाइप करने के लिए कीज बनी रहती है, जिसमें सभी अक्षर, अंक तथा संकेत लिखे रहते है। आमतौर पर की-बोर्ड दो मॉडल में मिलते है। (1) 83-84 कीज वाला स्टैंडर्ड मॉडल, (2) इंहेल्ड मॉडल जिसमें 104 या अधिक कीस होती है।
  2. माउस :- यह छोटा सा उपकरण है जो हमारी हथेली की पकड़ में आ जाता है। इसमें दो या तीन बटन लगे होते है जिनकी मदद से कंप्यूटर पर सुविधाजनक ढंग से कार्य करते है।
  3. सी.पी.यू. (सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट):- कम्प्यूटर का सी.पी.यू. आमतौर पर एक ऊंचे केबीनेट में होता है। यह कम्प्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है। इसमें एक माइक्रो प्रोसेसिंग चिप रहती है जो कम्प्यूटर के लिये सोचने के सभी काम करता है और प्रयोगकर्ता के आदेशों तथा निर्देशों के अनुसार प्रोग्राम का संचालन करता है।
  4. मॉनिटर :- कम्प्यूटर का मॉनिटर टेलीविजन स्क्रीन के समान काम करता है। यह लिखित डाटा और चित्रों को ब्लेक एंड व्हाइट या विभिन्न रंगों में दर्शाता है। की-बोर्ड से टाइप किया डाटा मॉनिटर पर दिखाई देता है। जब किसी प्रोग्राम पर काम किया जाता है तो इससे संबंधित निर्देश मॅानीटर पर दिखाई देते है।
  5. मॉडम :- यह एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसकी सहायता से प्रोग्राम और डाटा को दुनिया भर में टेलीफोन लाइनों द्वारा संचारित किया जाता है। मॉडम का प्रयोग विभिन्न कार्यों जैसे मेल भेजने, यात्रा रिजर्वेशन आदि में किया जाता है।
  6. प्रिंटर :- प्रिंटर वह उपकरण है जो कागज पर प्रतिकृति जैसे संख्याएं, अक्षर, चित्र, ग्राफ आदि बनाता है। जिसे सामान्य तौर पर प्रिंट आउट कहा जाता है। 7. स्कैनर :- इसका प्रयोग कई प्रकार से किया जाता है। इनका प्रयोग चित्रों, दस्तावेजों को उनके मूल रूप में स्टोर करने के अलावा अधिक मात्रा में लिखित डाटा स्कैन किया जा सकता है।

2. सॉफ्टवेयर (Software) -  

हार्डवेयर का संचालन एवं नियंत्रण सॉफ्टवेयर द्वारा किया जाता है। निर्देश का समूह प्रोग्राम कहलाता है एवं कम्प्यूटर प्रोग्रामों के समूह को सॉफ्टवेयर कहते हैं। एक कम्प्यूटर निर्देश द्वारा कम्प्यूटर को यह बताया जाता है कि उसे कौन सा कार्य करना है? निर्देश के बिना कम्प्यूटर कोई कार्य नहीं कर सकता। 

कंप्यूटर की विशेषताएं (Features of computer)

 कम्प्यूटर की प्रमुख विशेषताएं है:-
  1. कम्प्यूटर द्वारा आऊटपुट को तीन विभिन्न प्रकार से प्रदर्शित किया जा सकता है। (1) सर्वप्रथम से हार्ड कॉपी के तौर पर तैयार किया जा सकता है, (2) हार्ड कॉपी से प्रिंटर की मदद से अनेक प्रिंट आउट निकाले जा सकते है (3) इसे सांकेतिक सूचकों के तौर पर तैयार किया जा सकता है।
  2. कम्प्यूटर में निर्देश एवं आंकड़ों को पंच कार्ड या टेप मैगनेटिक, टेप या डिस्क या संकेत जिन्हें कि अनेक ऑप्टिकल स्कैनिंग माध्यम की सहायता से पढ़ा जा सकता है।
  3. इसके द्वारा शैक्षिक प्रशासन एवं व्यवस्था सुचारू रूप से चलाई जा सकती है। जैसे शिक्षकों व कर्मचारियों के वेतन भुगतान में उनकी वेतन पर्ची बनाने आदि में।
  4. यह परीक्षा मूल्यांकन के आंकड़ों को एकत्रित तथा समय-समय पर व्यवस्थित कर सकता है। 
  5. ज्ञान और उपलब्धियों के आदान-प्रदान का उत्तम एवं उपयोगी साधन है।

कंप्यूटर लैंग्वेज (Computer language)

कंप्यूटर (Computer) के लिए प्रयुक्त होने वाली प्रमुख भाषाएं हैं:
  1. बेसिक (BASIC)
  2. सी (C)
  3. सी++ (C++)
  4. जावा (JAVA)
  5. डॉटनेट (DOTNET)

Comments