असहयोग आंदोलन के कारण, कार्यक्रम एवं प्रभाव

By Bandey 5 comments

भारतीयों को प्रथम विश्व युद्ध की समाप्ति के पश्चात् अंग्रेजों द्वारा स्वराज्य प्रदाय करने का आश्वासन दिया गया था, किन्तु स्वराज्य की जगह दमन करने वाले कानून दिये गये तो उनके असन्तोष का ज्वालामुखी फूटने लगा । ऐसी स्थिति में गाँधीजी के विचारों में परिवर्तन होना स्वाभाविक था । भारतीय जनता को असहयोग आन्दोलन के […]