आंग्ल-सिक्ख युद्ध प्रथम एवं द्वितीय के कारण एवं परिणाम

By Bandey No comments

प्रथम आंग्ल-सिक्ख युद्ध (1845 ई.) प्रथम आंग्ल-सिक्ख युद्ध (1845 ई.) के कारण रानी झिन्दन की कूटनीति- रणजीतसिंह की मृत्यु के बाद सिक्ख सेना के अधिकारियों ने उत्तराधिकारी-युद्ध में और दरबार के षड्यंत्रो में अत्यन्त सक्रियता से भाग लिया। उनकी शक्ति और उच्छृंखलता इतनी बढ़ गयी थी कि शासन और राज परिवार के लागे उनसे आतंकित […]