Posts

पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जीवन परिचय एकात्म मानव दर्शन
पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी का जन्म 25 सितम्बर 1916 को मथुरा में हुआ था। इनके पिता श्री भगवती प्रसाद उपाध्याय और माता श्रीमती रामप्यारी एक विचारों वाली महिला थीं। इनके पिता भारतीय रेलवे में नौकरी करते थे। पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने कानपुर विश्वविद्यालय से बी0ए0 किया था। पंडित जी ने कभी नौकरी नहीं की और अपना सारा जीवन राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ में लगा दिया। पंड…

अधिगम क्या है?
अधिगम, अनुभवों, अभ्यास एवं प्रयासों के द्वारा व्यवहार में परिवर्तन की प्रक्रिया है। जैसे कि एक मानव शिशु जन्म लेते ही माँ का दूध पीना सीख लेता है। इन क्षमताओं को सहज व्यवहार कहा जाता है। जैसे- जैसे एक व्यक्ति बड़ा होता जाता अधिगम की समझ है वैसे-वैसे उसे जीवन की विविध परिस्थितियों के साथ कुछ समायोजन करना पड़ता है। इसलिए, उसे विभिन्न आदतों, ज्ञान, अभिवृत्ति, …

विकिपीडिया (wikipedia) क्या है?
विकिपीडिया (wikipedia) एक वेबसाइट है जिसे विकिपीडिया (wikipedia) प्लेटफार्म पर अकाउंट वाला कोई भी व्यक्ति संशोधित कर सकता है। विकिपीडिया (wikipedia) इंटरनेट पर सहयोग के लिए एक उपकरण है और सूचना का संग्रहालय भी है। विकिपीडिया (wikipedia) पेज पर किसी को भी जोड़ने, सुधार करने, मिटाने की मान्यता देने से यह सहयोगात्मक लेख के लिए एक प्रभावी उपकरण हो जाता है।
विकि…

कैप्चा (Captcha) क्या है?
कैप्चा (Captcha) स्पैम के खिलाफ वेबसाइटों की सुरक्षा के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला एक तरीका है। कैप्चा (Captcha) का पूर्ण रूप ‘कंप्यूटर और मनुष्यों को अलग बताने के लिए पूरी तरह से स्वचालित सार्वजनिक टयूरिंग परीक्षण’ है। कैप्चा (Captcha) का आविष्कार लुइस वॉन, मैनुअल ब्लम, निकोलस जे हॉपर और जॉन लैंगफोर्ड ने वर्ष 2003 में किया था।
वर्ष 1950 की शुरुआत में, क…

विधायिका किसे कहते हैं?
विधायिका शब्द की उत्पत्ति लॉटिन भाषा के शब्द लेक्स से हुई है। जिसका अर्थ है विशेष प्रकार का विधि नियम। इस नियम का अर्थ है विधान और जो संस्था इसे लागू करती है उसे विधायिका कहते है। प्रधानत: विधायिका के दो रूप है। एक है संसदीय और दूसरा है अध्यक्षीय। संसदीय प्रतिमान में कार्यपालिका का चुनाव अपने सदस्यों के मध्य से विधायिका द्वारा किया जाता है। अत: कार्यपालिका …

राज्य सूची के विषय
संघ सूची में 97 विषय शामिल है। यह सबसे बड़ी सूची है तीनों सूचियों में। इसमें वे विषय शामिल है जो राष्ट्रीय महत्व के हैं। ये विषय इस प्रकार हैं :- रक्षा, सशस्त्र सेना, शस्त्र एवं गोलाबारूद, परमाणु उर्जा, विदेशी मामले, युद्ध एवं शांति, नागरिकता, प्रत्यर्पण, रेलवे, जहाज और पनडुब्बी, वायुमार्ग, डाक एवं टेलीग्राफ, टेलीफोन, वायरलेस और प्रसारण, मुद्रा, विदेशी व्या…

राज्य सूची के विषय
राज्य सूची में 66 विषय है। इनमें से महत्वपूर्ण विषय इस प्रकार है। सार्वजनिक व्यवस्था, पुलिस, न्याय का प्रशासन, जेल, स्थानीय सरकार, सार्वजनिक स्वास्थ्य एवं स्वच्छता, शिक्षा, कृषि, पशु पालन, जलापूर्ति और सिंचाई, भू अधिकार, जंगल, मछली पालन, रकम उधार देना, राज्य लोक सेवा आयोग, भू-राजस्व, कृषि आय पर कर देना, भूमि एवं मकान पर कर, संपत्ति कर शुल्क, विद्युत कर, वाह…