20+ Best Love & Romantic Quotes For Him & Her 2022

20+ Best Love & Romantic Quotes For Him & Her 2022 Most people, especially codependents, desire to find love. For us, attachments provide our lives purpose and meaning, and love is arguably the highest ideal. They inspire us and give us life. …

एनी बेसेंट का जीवन परिचय

1847 में एनी बेसेंट का जन्म लंदन में हुआ था। 1892 ई0. को एनीबीसेन्ट को भारत की थियोसोफिकल सोसायटी ने भारत आने का आमंत्रण दिया वे अक्टूबर 1893 में भारत पहुंची । 1917 में एनी बीसेन्ट कांग्रेस की अध्यक्ष बनी। उन्होंने भारतीय राजनीति में सक्रिय रूप से भाग…

सभ्यता का अर्थ

संस्कृत-व्याकरण की दृष्टि से ‘सभ्यता’ पद की रचना इस प्रकार हुई है - ‘‘सभायां साधुः’’ अर्थ में सभा पद से यत् प्रत्यय लगाकर सभ्य पद निष्पन्न होता है। सभा+यत्= सभ्य। सभ्य पद का अर्थ है - वह व्यक्ति, जो सभाओं एवं समाज में उचित आचरण करता है, सामाजिक व्यवहा…

वैष्णव धर्म के सिद्धांत एवं विचार

वैष्णव धर्म का विकास भागवत धर्म से हुआ। मान्यता के अनुसार इसके प्रवर्तक वृष्णि (सत्वत) वंशी कृष्ण थे जिन्हें वसुदेव का पुत्र होने के कारण वासुदेव कृष्ण कहा गया। छान्दोग्य उपनिषद में उन्हें देवकी-पुत्र कहा गया है तथा घोर अंगिरस का शिष्य बताया गया है। क…

सिख धर्म सुधार आंदोलन के प्रणेता कौन थे?

सिक्ख धर्म सुधार आंदोलन पंजाब और उत्तर पाकिस्तान सीमा प्रान्त में प्रसारित हुआ सिक्ख धर्म सुधार आन्दोलन के प्रवर्तक ’’दयाल दास‘‘ थे। इनका प्रमुख उद्देश्य सिक्ख धर्म में प्रचलित हिन्दू परम्पराओं तथा रीति रिवाजों के विरोध में उपदेश दिया तथा मूर्ति पूजा …

मुन्तखाब-उत-तवारीख क्या है इसकी रचना किसने की ?

इस ग्रन्थ की रचना अब्दुल कादिर बदायुनी ने की थी। यह ग्रंथ जहांगीर के शासनकाल में प्रकाश में आया। इसे तारीख-ए-बदायुॅनी के नाम से भी जाना जाता है। मुन्तखाव- ए- तवारीख की रचना बदायुॅनी ने 1590 ई. में शुरू की थी। इसे फरवरी 1596 ई. में पूरा कर दिया था। वह …

द्वितीय आंग्ल-मैसूर युद्ध के कारण

द्वितीय आंग्ल-मैसूर युद्ध के कारण 1. निजाम की अंग्रेजों से रूष्टता कंपनी की मद्रास सरकार ने 1768 ई. में कर्नाटक के नबाव को तंजौर पर आक्रमण कर उसे प्राप्त करने में सहायता प्रदान की थी और बसालतजंग से जो निजाम का संबंधी था, गुन्टूर जिला छीन लिया था। नवम…

Load More
That is All