राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (नैक) क्या है?

By Bandey No comments

राष्ट्रीय मूल्यांकन तथा प्रत्यायन परिषद (NAAC, नैक) राष्ट्रीय असेसमेन्ट तथा एवीडिशन समिति एक स्वचालित स्वायन संस्था है जो कि नेशनल शिक्षा की राष्ट्रीय नीति 1986 तथा POA 1992 […]

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के कार्य

By Bandey No comments

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) पार्लियामेन्ट एक्ट के तहत बनने वाली एक स्वायन संस्था है जो विश्वविद्यालय शिक्षा के स्तर को बनाने तथा बनाये रखने का कार्य करती है। […]

विद्यालय निरीक्षण का अर्थ, उद्देश्य, प्रकार एवं विधियाँ

By Bandey No comments

निरीक्षण का शाब्दिक अर्थ किसी वस्तु का अवलोकन होता है। शिक्षा के क्षेत्र में शैक्षिक कार्यो के अवलोकन को निरीक्षण कहा जा सकता है। ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य में विचार […]

शैक्षिक पर्यवेक्षण: अर्थ, प्रकृति तथा प्रकार

By Bandey 1 comment

पर्यवेक्षण शब्द अंग्रेजी के शब्द ‘सुपरविजन’ का हिन्दी रूपान्तर है जिसका अर्थ होता है कि वह श्रेष्ठ दृष्टि जो स्थिति का सही आंकलन कर सम्बन्धित क्षेत्र का भावी […]

प्रौढ़ शिक्षा का अर्थ, भारत में प्रौढ़ शिक्षा का विकास

By Bandey No comments

प्रौढ़ शिक्षा को भिन्न-भिन्न नामों से जाना जाता है, जैसे-सामाजिक शिक्षा, आधारभूत शिक्षा, ग्रामोपयोगी शिक्षा तथा जन समूह की शिक्षा। सबसे पहले प्रौढ़ शिक्षा का संकुचन पढ़ना-लिखना तथा […]