महिला समाख्या के उद्देश्य और मुद्दे क्या है?

मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार अंतर्गत महिला समाख्या कार्यक्रम निहित है। यह कार्यक्रम ग्राम स्तर पर महिलाओं के समूह निर्माण पर केन्द्रित है।

महिला समाख्या के मुद्दे

महिला समाख्या महिला सशक्तिकरण के मूलभूत पाँच मुद्दों पर कार्य करती है :-
  1. शिक्षा
  2. स्वास्थ्य शिक्षा
  3. कानूनी शिक्षा
  4. जीविकोपार्जन/आर्थिक
  5. स्थानीय प्रशासन/पंचायती राज में महिलाओं की सहभागिता।

महिला समाख्या के उद्देश्य

  1. ऐसे वातावरण का सृजन करना जिसमें शिक्षा के द्वारा महिलाओं में समानता का उद्देश्य पूरा हो।
  2. महिलाओं में आत्मविश्वास ओर आत्मछवि वृद्धि करना, ताकि वे आर्थिक उत्पादन में अपने सहयोग को पहचानने और शिक्षण कार्यक्रमों में अपनी सहभागिता की आवश्यकता पर जोर दे सके।
  3. ऐसे वातावरण का निर्माण करना, जहाँ ज्ञान एवं सूचना की मांग कर अपने को सशक्त बनाये, ताकि वे अपने एवं समाज के विकास में सकारात्मक भूमिका निभा सके।
  4. महिलाएँ एवं बालिकाएँ औपचारिक एवं अनोपचारिक शिक्षा कार्यक्रमों में अपनी भागीदारी की गति को सभी परिस्थिति में बढ़ाए।
  5. महिलाएँ एवं किशोरियों को आवश्यक सहयोगात्मक ढाँचा प्रदान करना ओर शिक्षण वातावरण तैयार कर शिक्षा के लिए अवसर प्रदान करना।
  6. महिला संघ को सक्षम करना, जिससे अपने गाँव में शिक्षण क्रियाकलाप जिसमें ओपचारिक विद्यालय एवं वैकल्पिक शिक्षण केन्द्रों का अवलोकन करें तथा शिक्षा को जारी रखते हुए अन्य सुविधाओं में सहायता करें।

Bandey

मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता चित्रकूट, भारत से ब्लॉगर हूं। मैंने अपनी पुस्तकों के साथ बहुत समय बिताता हूँ। इससे https://www.scotbuzz.org और ब्लॉग की गुणवत्ता में वृद्धि होती है।

Post a Comment

Previous Post Next Post