भारत में सबसे अधिक पढ़े जाने वाले वाले समाचार पत्र और पत्रिकाएँ

अनुक्रम
भारतीय पत्रकारिता का इतिहास लगभग दो सौ वर्ष पुराना है। भारतवर्ष में आधुनिक ढंग की पत्रकारिता का जन्म अठारहवीं शताब्दी के चतुर्थ चरण में कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में हुआ। 1780 ई. में प्रकाशित हिके का ‘कलकत्ता गजट’ कदाचित इस ओर पहला प्रयत्न था। हिंदी के पहले पत्र उदंत मार्तण्ड (1826) के प्रकाशित होने तक इन नगरों की ऐंग्लोइंडियन अंग्रेजी पत्रकारिता काफी विकसित हो गई थी।

आज की स्थिति में भारत के विभिन्न भाषाओं में 70 हजार समाचार पत्रों का प्रकाशन होता है। आज भारत विश्व का सबसे बड़ा समाचार पत्र का बाजार है। प्रतिदिन 10 करोड़ प्रतियाँ बिकतीं हैं। जहां तक हिंदी समाचार पत्र की बात है 1990 में हुए राष्ट्रीय पाठक सर्वेक्षण की रिपोर्ट बताती थी कि पांच अगुवा अखबारों में हिन्दी का केवल एक समाचार पत्र हुआ करता था। लेकिन पिछले 2016 सर्वे ने साबित कर दिया कि हम कितनी तेजी से बढ़ रहे हैं। इस बार 2016 सबसे अधिक पढ़े जाने वाले पांच अखबारों में शुरू के चार हिंदी के हैं। 

भारत में सबसे अधिक पढ़े जाने वाले वाले समाचार पत्र

भारत में सबसे अधिक पढ़े जाने वाले वाले दस समाचार पत्र निम्नलिखित हैं-
  1. दैनिक जागरण:- कानपुर से 1942 से प्रकाशित दैनिक जागरण हिंदी समाचार पत्र में वर्तमान में सर्वाधिक प्रसारित समाचार पत्रों में शुमार है। इसके 11 राज्यो में दर्जनों संस्कारण हैं। इसकी प्रसार संख्या जून 2016 तक 3,632,383 दर्ज की गई थी। 
  2. दैनिक भास्कर:- भेपाल से 1958 में आरंभ यह समाचार पत्र वर्तमान में 14 राज्यो में 62 संस्करण में प्रकाशित हो रहे हैं। हिदी के साथ इसके अंगे्रजी, मराठी एवं गुजराती भाषा में भी कई सस्ं करण हैं। इसकी प्रसार संख्या जनू 2016 तक 3,812,599 थी। 
  3. अमर उजाला:- आगरा से 1948 से प्रारंभ अमर उजाला के वर्तमान सात राज्यों एवं एक केद्रीं शासित प्रदेश में 19 संस्करण हैं। इसके जनू 2016 तक प्रसार सख्ंया 2,938,173 होने का रिकार्ड किया गया है। 
  4. टाइम्स ऑफ इंडिया:- अंग्रेजी भाषा का समाचार पत्र टाइम्स ऑफ इंडिया 1838 को सबसे पहले प्रकाशित हुआ था। यह देश का चैथा सबसे अधिक प्रसारित समाचार पत्र है। इसके साथ ही यह विश्व का छठा सबसे अधिक प्रसारित दैनिक समाचार पत्र है। दिसंबर 2015 तक इसकी प्रसार संख्या 3,057,678 थी। भारत के अधिकांश राज्य के राजधानी में इसके संस्करण हैं। 
  5. हिंदुस्तान:- दिल्ली से 1936 से प्रकाशित हिदुंस्तान के वर्तमान 5 राज्यों में 19 संस्करण हैं। इसकी प्रसार संख्या जून 2016 तक 2,399,086 थी। 
  6. मलयाला मनोरमा:- मलयालम भाषा में प्रकाशित यह समाचार पत्र 1888 में कोट्टायम से प्रकाशित हुआ। यह केरल का सबसे पुराने समाचार पत्र है। यह केरल के 10 शहरों सहित बैंगलोर, मैंगलोर, चेन्नई, मुंबइ, दिल्ली, दुबई एवं बहरीन से प्रकाशित है। इसकी दिसंबर 2015 तक प्रसार संख्या 2,342,747 थी। 
  7. ईनाडु:- तेलगू भाषा में प्रकाशित ईनाडु समाचार पत्र 1974 में प्रकाशन प्रारंभ हुआ। आंध्रप्रदेश एवं तेलेगं ानामें इसके कई संस्करण हैं। दिसंबर 2015 तक इसकी प्रसार संख्या 1,807,581 थी। 
  8. राजस्थान पत्रिका:- 1956 से दिल्ली में प्रारंभ राजस्थान पत्रिका वर्तमान 6 राज्यो में दर्जनो संस्कारण में प्रकाशित हो रहे हैं। जनू 2016 तक इसकी प्रसार संख्या 1,813,756 थी। 
  9. दैनिक थेथीं:- तमिल भाषा में प्रकाशित दैनिक थेंथी ने सर्वप्रथम 1942 में प्रकाशित हुआ। वर्तमान विदेशों सहित 16 शहरों में इसके संस्करण प्रकाशित हो रहे हैं। जून 2016 तक इसकी प्रसार संख्या 1,714,743 थी। 
  10. मातृभूमि मलयालम:- भाषा में प्रकाशित मातृभाषा का प्रथम प्रकाशन 1923 को हुआ था। करे ल के 10 शहरों सहित चेन्नई, बैंगलोर, मुबंई और नईदिल्ली से प्रकाशित हो रहे हैं। दिसंबर 2015 तक इसकी प्रसार संख्या 1,486,810 थी। 
देश में सर्वाधिक प्रसारित दस हिदीं दैनिक में दैनिक जागरण, हिंदुस्तान, दैनिक भास्कर, राजस्थान पत्रिका, अमर उजाला, पत्रिका, प्रभात खबर, नवभारत टाइम्स, हरिभूमि, पंजाब केसरी शामिल हैं। अंगे्रजी के दस सर्वाधिक प्रसारित समाचार पत्रों में टाइम्स ऑफ इंडिया, हिंदस्तुन टाइम्स, दि हिंदु, मुंबई मिरर, दि टेलिग्राफ, दि इकोनोमिक्स टाइम्स, मिड डे, दि ट्रिब्यून, डेकान हेरल्ड, डेकान क्रानिकल्स शामिल हैं। क्षेत्रीय भाषाओं के समाचार पत्रों में मलयालयम मनोरमा(मलयालम), दैनिक थेथीं(तमिल), मातृभूमि(मलयालम), लोकमत(मराठी), आनंदबाजार पत्रिका(बंगाली), ईनाडु(तेलगू), गुजरात समाचार(गुजराती), सकल(मराठी), संदेश(गुजराती), साक्षी(मराठी) शामिल हैं।

पत्रिकाओं में सर्वाधिक प्रसारित हिंदी पत्रिका

पत्रिकाओं में दस सर्वाधिक प्रसारित हिंदी पत्रिकाओं में 
  1. प्रतियोगिता दर्पण, 
  2. इंडिया टुडे, 
  3. सरस सलील, 
  4. सामान्य ज्ञान दर्पण, 
  5. गृहशोभा, 
  6. जागरण जोश प्लस, 
  7. क्रिकेट सम्राट, 
  8. क्रिकेट टुडे, 
  9. मेरी सहेली एवं 
  10. सरिता। 
अंग्रेजी के सर्वाधिक दस पत्रिकाओं में इंडिया टुडे, प्रतियोगिता दर्पण, जेनेरल नालेज टुडे, दि स्टपोटर्स स्टार, कंपिटिशन सक्सेस रिवियू, आउटलूक, रिडरर्स डायजेस्ट, फिल्मफेयर, डायमंड क्रिकेट टुडे, फेमिना शामिल हैं। दस क्षेत्रीय पत्रिकाओं में थेंथी(मलयालम), मातृभूमि आरोग्य मासिक(मलयालम), मनोरमा तोझीविधि(मलयालम), कुमुद(तमिल), कर्म संगठन(बंगाली), मनोरमा तोझीवर्थ(मलयालम), गृहलक्ष्मी(मलयालयम), मलयालम मनोरमा(मलयालम), कुंगुमम(तमिल) एवं कर्मक्षेत्र(बंगाली) शामिल हैं।

देश में सर्वाधिक प्रसारित साप्ताहिक समाचार पत्र में हिंदी के रविवासरीय हिंदुस्तान, अंग्रेजी का दि संडे टाइम्स ऑफ इंडिया, मराठी का रविवार लोकसत्ता, अंग्रेजी का दि स्वीकिंग ट्री, बंगाली का कर्मसंगठन शामिल है। इसके अलावा देश में अलग अलग भाषाओ में हजारो की संख्या में साप्ताहिक समाचार पत्र प्रकाशित हाते े हैं। इसके अलावा हजारों की संख्या में पत्रिकाएँ प्रकाशित होती है।

Comments