ई-मेल किसे कहते हैं?

अनुक्रम
ई-मेल संदेश भेजने की तेज तथा आसान प्रक्रिया, हमारे पास इंटरनेट एकाउंट है तो कुछ ही मिनट में अपना संदेश भेज सकते है। यह इंटरनेट का सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाला फीचर है जो हमारे संदेशों का अपने मित्रों, छात्रों, शिक्षकों आदि के पास पूरे संसार में कहीं भी भेजने में सक्षम हैं हम संदेश के साथ फोटो, ऑडियो तथा एनीमेंशन्स भी भेज सकते है। 

ई-मेल के उपयोग

  1. सूचनाओं का भंडार :- इंटरनेट अपने आप में सूचनाओं का एक बहुत बड़ा संग्रह है, भंडार है जो मन वांछित विषय की जानकारी अतिशीघ्र उपलब्ध कराता है। हर आयु वर्ग की आवश्यकतानुसार जानकारी देता है। शिक्षा का क्षेत्र, व्यापार, बैंकिंग एकाउंट आदि के क्षेत्र में सभी जानकारी सुगमता से मिल जाती है। 
  2. सॉफ्टवेयर तथा प्रोग्राम :- इंटरनेट पर हजारों प्रोग्राम्स तथा सॉफ्टवेयर मुफ्त में उपलब्ध रहते है जिन्हें हम फाइल ट्रांसफर, प्रोटोकोल की मदद से अपनी हार्ड डिस्क पर स्टोर कर सकते है। 
  3. एकाउंटिंग :- एकाउंटिंग व्यवसायिक उपक्रमों में इस्तेमाल होने वाला एक महत्वपूर्ण शब्द है। नकद होने वाले लेन को दर्ज करने की कला के रूप में इसे जाना जाता है। दर्ज 57 करने का यहकाम इसलिए किया जाता है कि हमें पता रहे कि कितने रूपये लेने और कितने देने है। इसका संपूर्ण ब्यौरा हम ई-मेल के द्वारा आसानी से पता कर लेते है। 
  4. बैंकिग :- बैंक के कई कार्य हम ई-मेल के द्वारा कर सकते है। रेलवे संबंधी कार्य रिजर्वेसन आदि कार्य भी इसके द्वारा संभव है। 
  5. मनोरंजन :- इंटरनेट पर सैकड़ों मुफ्त गेम्स जैसे- चैस, फुटबॉल आदि उपलब्ध रहते है। जिन्हें हम फाइल ट्रान्सफर प्रोटोकॉल की मदद से अपने हार्ड डिस्क पर स्टोर कर सकते है। 
  6. ऑनलाइन खरीदारी :- ई-मेल के द्वारा इंटरनेट पर ही खरीदना या बेचना ऑनलाइन खरीदी कहलाता है। हम इस पर जरूरत की वस्तुओं तथा सेवाओं जैसे कम्प्यूटर, सॉफ्टवेयर, किताबें, पोशाके कोसमेटिक्स आदि खरीद सकते है।

Comments