Testosterone टेस्टोस्टेरोन हार्मोन क्या है? कम टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के लक्षण क्या हैं?

Testosterone टेस्टोस्टेरोन पुरुष सेक्स हार्मोन है। यह अंडकोश में बनता है। हार्मोन शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं। Testosterone टेस्टोस्टेरोन निम्न के लिए आवश्यक हैः 
  1. सामान्य पुरुष यौन विकास और कार्य 
  2. बढ़ते लड़कों में चेहरे के बाल और गहरी आवाज विकसित करने के लिए 
  3. मांसपेशियों की ताकत 
  4. पुरुष शुक्राणु बनाने के लिए 
  5. पुरुष सेक्स ड्राइव 

कम टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के लक्षण क्या हैं? 

निम्न लक्षणों के अधिक होने या सीधे Testosterone टेस्टोस्टेरोन की कमी या टेस्टोस्टेरोन डैफिषियन्सी (टीडी) से जुड़े होने की संभावना हैः
  1. लोअर सेक्स ड्राइव 
  2. शरीर के बालों का झड़ना 
  3. दाढ़ी कम बढ़ना 
  4. लीन मसल मास (दुबली मांसपेशियों) का नुकसान 
  5. हर समय बहुत थकान महसूस करना (थकावट) 
  6. ओबीसिटी या मोटापा (अधिक वजन होना) 

अन्य लक्षण 

कुछ लक्षण जो टीडी से जुड़े या नहीं जुड़े हो सकते हैंः 
  1. कम ऊर्जा, सहनीयता, और शारीरिक शक्ति 
  2. कमजोर स्मृति 
  3. कुछ कहने के लिए शब्दों को खोजने में परेशानी 
  4. किसी चीज पर ठीक से ध्यान केंद्रित न कर पाना 
  5. अवसाद के लक्षण ऽ काम में अच्छा नहीं करना 
  6. स्तंभन दोष 

कम टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का क्या कारण है? 

कभी-कभी Testosterone टेस्टोस्टेरोन रक्त स्तर कम होता है। इसे टेस्टोस्टेरोन की कमी या टीडी कहा जाता है। प्रत्येक 100 में से लगभग 2 पुरुषों में टीडी हो सकता है। सामान्य तौर पर, टेस्टोस्टेरोन का स्तर उम्र के साथ कम होता जाता है। युवा पुरुशों में, टीडी प्रत्येक 100 पुरुषों में लगभग 1 में होता है, यह पुरुषों की उम्र के बढ़ने के साथ-साथ अधिक आम हो जाता है। कम टेस्टोस्टेरोन पहले से सूचीबद्ध लक्षणों में से किसी के साथ संयोजन में 300 एनजी/डीएल से कम एक रक्त स्तर है। 

मूल रूप से, यदि आपके अंडकोश सामान्य से कम टेस्टोस्टेरोन बनाते हैं, तो आपका टेस्टोस्टेरोन स्तर गिर जाएगा। आपका टीडी निम्न से सम्बंधित हो सकता हैः 
  1. उम्र बढ़ने 
  2. मोटापा (अधिक वजन) 
  3. दुर्घटना से अंडकोश को नुकसान 
  4. अंडकोश का निकलना (कैंसर या अन्य कारणों से) 
  5. कीमोथैेरेपी या विकिरण 
  6. ओपिओइड या एंटीडिप्रेसेंट उपयोग 
  7. मधुमेह 
  8. संक्रमण 
  9. पौरुष ग्रंथि (पिट्यूटरी ग्लैन्ड) रोग के कारण कम हार्मोन उत्पादन 
  10. स्व-प्रतिरक्षित (ऑटोइम्यून) बीमारी (जब आपका शरीर स्वयं ही अपनी कोशिकाओं पर हमला करता है

Bandey

मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता चित्रकूट, भारत से ब्लॉगर हूं। मैंने अपनी पुस्तकों के साथ बहुत समय बिताता हूँ। इससे https://www.scotbuzz.org और ब्लॉग की गुणवत्ता में वृद्धि होती है।

Post a Comment

Previous Post Next Post