NPTEL क्या है ?

NPTEL का full form है - नेशनल प्रोग्राम ऑन टेक्नोलॉजी एनहान्स लर्निंग (National Program on Technology Enhanced Learning) है । यह मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा वित्त पोषित परियोजना है, जिसकी शुरूआत सन् 1999 में की गई थी । मूलभूत विज्ञान तथा इंजीनियरिंग अवधारणा के सीखने को बढ़ाने के लिए मल्टीमीडिया एवं वेब तकनीकी ने अधिगम के मार्ग को प्रशस्त किया ।

आई. आई. टी. एवं टेक्नीकल टीचर टेªनिंग इंस्टीट्यूट के द्वारा वीडियों आधारित शिक्षण सामग्री के उत्पादन के लिए महत्वपूर्ण बुनियादी ढाँचा तैयार किया गया । एन. पी. टी. ई. एल. के पहले चरण (जून 2003-जून 2004) की परियोजना में 7 आई. आई. टी. एवं भारतीय विज्ञान संस्थान (आई. आई. एस. सी.) ने वेब तकनीकी तथा वीडियो आधारित शिक्षण सामग्री विकसित करके स्नातक विज्ञान एवं इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम हेतु एक साथ कार्य प्रारम्भ किया तथा देश में तकनीकी शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाने का प्रयास किया ।

मल्टीमीडिया की अवधारणा पर आधारित पाठ्यक्रमों को उच्च दक्षता की अन्तःक्रिया के साथ विकसित एवं विकासशील राष्ट्रों में लोकप्रिय एवं व्यवहार्य विकल्प के रूप में स्थान दिया गया । तकनीकी में विभिन्न मल्टी मीडिया पाठ्यक्रम न केवल संकाय के लिए आकर्षक एवं रचनात्मक विकल्प होते है, अपितु शिक्षार्थी के लिए भी मूल्यवान होते है । इस तरह के पाठ्यक्रम नियमित, दूरस्थ अधिगम मोड एवं आफ केम्पस अधिगम के छात्रों के लिए अधिगम अनुभव बढ़ाने में सहायक होते है ।

तकनीकी विश्व के अलग-अलग भागों में शिक्षकों के साथ विशेषज्ञों के अनुभव सांझा करने में भी डिजाइन तथा पाठ्यक्रम के वितरण में नवाचार के लिए कई दिलचस्प रास्ते खोलता है । भारत में इंजीनियरिंग शिक्षा के क्षेत्र में अनेक निजी संस्थानों की एक बड़ी संख्या है, जहाँ अपर्याप्त संकाय समर्थन एवं प्रशिक्षण का अभाव है । इस परियोजना का उद्देश्य शिक्षक एवं छात्र दोनों को ही शैक्षिक सामग्री के लिए एक मानक प्रदान करना है ।

देष में कई संस्थाओं के विभिन्न पाठ्यक्रमों में से विज्ञान एवं इंजीनियरिंग के क्षेत्र में विशेष रूप से बुनियादी कोर पाठ्यक्रम IITs में से एक सीमा तक समान है । अधिकांश संस्थानों में इंजीनियरिंग की पारम्परिक शाखाओं में स्नातक स्तर पाठ्यक्रम बड़ी संख्या में संचालित हो रहे है । इससे स्पष्ट है कि इन पाठ्यक्रमों में लाभ की दृष्टि से विकास कार्य जरूरी है । इसी संबंध में NPTEL पूरे देष में इंजीनियरिंग स्नातकों की संख्या बढ़ाने एवं गुणवत्ता सुधार के लिए अग्रसर है ।

NPTEL के लक्ष्य

NPTEL परियोजना का व्यापक उद्देश्य वैश्विक बाजारों में भारतीय उद्योगों की प्रतिस्पर्धात्मकता को सुविधाजनक बनाना तथा इंजीनियरिंग की शिक्षा को पहुँचाना है । NPTEL का परिचालन उद्देश्य सूचना एवं सम्पे्रषण तकनीकी के क्षेत्र में प्रगति को बाधित करने वाले कारकों से उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षण सामग्री को देषभर के इंजीनियरिंग संस्थानों के छात्रों के लिए उपलब्ध कराना है ।

NPTEL के शैक्षिक लक्ष्य इस प्रकार है -

  1. NPTEL गतिविधि के लिए वेबसाइट की रचना करना ।
  2. पूरक कक्षा शिक्षण हेतु ई-लर्निंग सामग्री वेब वीडियो व्याख्यान उपलब्ध कराना ।
  3. वेब आधारित सामग्री का निर्माण करना तथा D.V.D. के माध्यम से इंजीनियरिंग छात्रों की आवश्यकताओं की पूर्ति करना ।
  4. तकनीकी चैनल ‘‘एकलव्य‘‘ के माध्यम से वीडियों व्याख्यानों को उचित प्रारूप में प्रस्तुत करना।
  5. राष्ट्रीय परियोजना के लाभ के लिए हार्डवेयर/साॅफ्टवेयर आवश्यकताओं के संबंध में संस्थानों को सलाह देना ।

NPTEL के कार्यक्रम

मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार ने एक संशोधित प्रस्ताव पर विचार किया तथा परियोजना के पहले चरण में 20.47 करोड़ के वित्तीय पोषण की स्वीकृति प्रदान की । इस परियोजना के लिए तीन वर्ष की समय सीमा जून 2003 से जून 2006 तक तय की गई । सहभागी संस्थानों की जटिल एवं विषम परिस्थितियों के चलते मल्टीमीटिया और वीडियो उत्पादन क्षमताओं के संबंध में परियोजना की समयावधि को 30 जून 2007 तक बढ़ा दिया गया । डिजिटल ग्रंथालय परियोजना को अलग से प्रस्तावित किया गया और इसके लिए अलग से वित्त पोषित किया गया । भारतीय प्रबंधन संस्थानों में अतिरिक्त निवेश उपलब्ध कराया गया । आई. आई. टी. एवं भारतीय विज्ञान संस्थान प्रथम चरण के लिए बुनियादी स्नातक विज्ञान और इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों के लिए वेब तथा शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए एक साथ कार्य कर रहा था । पाठ्यक्रम सामग्री के वितरण के संबंध में दो तरीकों के बारे में सुझाव प्रेषित किये गये -

  1. पाठ्यक्रमों के डिजिटल वीडियो, व्याख्यान
  2. वेब आधारित पाठ्यक्रम

110 वीडियो आधारित पाठ्यक्रम तथा 129 वेब आधारित पाठ्यक्रम दिसम्बर 2007 में भारत के संस्थानों में वितरित करने हेतु तैयार किये गये । इन वीडियो व्याख्यानों को दूरदर्शन टेलीविजन के ‘एकलव्य चैनल‘ के माध्यम से ज्ञान दर्शन कार्यक्रम के अंतर्गत प्रसारित किया जाना प्रारम्भ किया गया। ये वेब पाठ्यक्रम वर्तमान में सरकारी NPTEL वेबसाइट http:/nptel.iitm.ac.in पर उपलब्ध है ।

Bandey

मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता (MSW Passout 2014 MGCGVV University) चित्रकूट, भारत से ब्लॉगर हूं।

Post a Comment

Previous Post Next Post