लता मंगेशकर का जीवन परिचय

लता मंगेश्कर का जन्म मध्यप्रदेश के इंदौर में 28 सितंबर 1929 को हुआ। भारतीय सिनेमा में पार्श्व गायिका के रूप में लोकप्रिय और प्रसिद्ध सुश्री लता मंगेश्कर ने बीस से भी ज्यादा भाषाओं में फिल्मी और गैर-फिल्मी गाने गाए हैं। पिता की मृत्यु के बाद परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण अपने कैरियर की शुरुआत में 1942 से 1952 तक इन्होंने फिल्मों में अभिनय भी किया। लता जी ने अपना पहला गाना मराठी फिल्म कीति हसाल के लिए सन 1942 में गाया लेकिन दुर्भाग्य से यह फिल्म रिलीज नहीं हो पाई। पार्श्व गायन के क्षेत्र में प्रत्यक्ष तौर पर इनका कैरियर 1947 से प्रारंभ हुआ लेकिन 1948 में आई फिल्म महल में उनका गाया हुआ गीत “आयेगा आने वाला” काफी लोकप्रिय हुआ। इसके बाद लता जी ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। लता जी का जीवन अनेक पुरस्कारों से भरा रहा। वर्ष 1958 से अभी तक इन्हें छः बार फिल्म फेयर पुरस्कार मिले हैं। 

सन् 1969 में इन्हें भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण से सम्मानित किया गया। इसके बाद वर्ष 1974 में दुनिया में सबसे अधिक गीत गाने का गिनीज बुक रिकार्ड इनके नाम हुआ। सन् 1989 में दादा फालके पुरस्कार से इन्हें नवाजा गया। वर्ष 1999 में पद्म विभूषण और वर्ष 2001 में भारत का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न भी इनकी उपलब्धियों में जुड़ गया। वर्ष 1999 से 2005 तक स्वर साम्राज्ञी लता जी राज्यसभा की मनोनित सदस्य भी रहीं। 

Bandey

मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता (MSW Passout 2014 MGCGVV University) चित्रकूट, भारत से ब्लॉगर हूं।

Post a Comment

Previous Post Next Post