समस्या समाधान विधि क्या है ? इसके गुण व दोषों की विवेचना

समस्या समाधान विधि का प्रयोग छात्रों में समस्या को हल करने की क्षमता विकसित करने के लिये किया जाता है ओर छात्रों से यह अपेक्षा की जाती है कि वे स्वयं अपनी समस्याओं को प्रयासों द्वारा हल करें। छात्रों को समस्या दी जाती है वे उसके कारणों की खोज निकालते है तथा नियम विधि के द्वारा उसे पूर्ण करते हैं छात्र परीक्षण ओर मूल्यांकन के बाद उस समस्या का उचित मूल्यांकन करते हैं। यह विधि छात्रों में चिन्तन, मनन, तर्क शक्ति, निरीक्षण शक्ति का विकास करती है। छात्र जो कुछ सीखता है क्रिया द्वारा सीखता है, जो स्थायी ज्ञान प्रदान करती है।

वुद्ध ने इस विधि को इस प्रकार परिभाषित किया है ‘‘समस्या विधि निर्देश की वह विधि है जिसके द्वारा सीखने की प्रक्रिया को उन चुनौतीपूर्ण स्थितियों को सृजन द्वारा प्रोत्साहित किया जाता है जिनका समाधान करना आवश्यक है।

समस्या समाधान विधि के गुण

  1. यह विधि छात्रों की भावी जीवन की समस्याओं को हल करनें का प्रशिक्षण देती है।
  2. यह छात्रों में विचार शक्ति एवं निर्णय शक्ति का विकास करती है। 
  3. इसके प्रयोग में छात्रों में संग्रह की प्रवृति का विकास करती है। 
  4. यह छात्रों में तार्कि क दृष्टिकोण उत्पन्न करती है। 
  5. छात्रों का मस्तिष्क इस विधि द्वारा सक्रिय होकर सजग हो जाता है ओर समस्या का समाधान सरलता से कर लेता है। 6. छात्र इस विधि से स्वयं निर्णय लेने लगते हैं। 
  6. यह कक्षा के वातावरण को क्रियाशील बनाती है। 
  7. यह विधि स्वाध्याय का प्रशिक्षण देती है। 
  8. यह विधि छात्रों में आत्म विश्वास जाग्रत करती है। 
  9. इससे छात्रों में वैज्ञानिक ढंग से चिन्तन करने की योग्यता का विकास होता है।

समस्या समाधान विधि के दोष

इस विधि के निम्नलिखित दोष हैं:-
  1. यह विधि उच्च स्तरीय कक्षाओं में ही सफल है, निम्न स्तर कक्षाओं के लिये उपयोगी नहीं है। 
  2. यह आवश्यक नहीं है कि इस विधि द्वारा छात्र जो परिणाम निकालें वह सही तथा संतोषजनक हो। 
  3. इस विधि के प्रयोग में पर्याप्त समय लगता है। 
  4. इस विधि का प्रयोग योग्य अध्यापक ही कर सकते हैं, सामान्य अध्यापक नहीं कर सकते। 
  5. इस विधि का प्रयोग कभी कभी वातावरण को नीरस बना देता है।

Bandey

मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता चित्रकूट, भारत से ब्लॉगर हूं। मैंने अपनी पुस्तकों के साथ बहुत समय बिताता हूँ। इससे https://www.scotbuzz.org और ब्लॉग की गुणवत्ता में वृद्धि होती है।

Post a Comment

Previous Post Next Post